पंजाब की अग्रणी रियल एस्टेट कंपनी सुषमा ग्रुप ने हाल ही में मानसा में प्लॉट लॉन्च करने की घोषणा की। ग्रुप  का पिछले 13 वर्षो में 14 प्रोजक्टों की डिलीवरी करने के बाद, भाटिंडा शहर के पास, मानसा में यह तीसरा जॉयनेस्ट प्रोजेक्ट होगा। मोहाली और जीरकपुर के प्रमुख स्थानों में स्थित, पहले 2 जॉयनेस्ट प्रोजेक्टों की डिलीवरी पहले ही शुरू हो चुकी है।ग्रुप, मानसा में 11 एकड़ में फैले प्रोजेक्ट में 99 स्क्कायर यार्ड, 106 स्क्कायर यार्ड, 116 स्क्कायर यार्ड, 122 स्क्कायर यार्ड और स्क्कायर यार्ड के विभिन्न आकारों में अलग- अलग प्लॉट वेरिएंट प्रदान करता है। जिसकी शुरूआती कीमत केवल 11ण्90 लाख रूपये से है।
बता दें कि, भारत में प्लॉट हमेशा खरीदारों के लिए रियल स्टेट निवेश का पंसदीदा विकल्प रहा है। खासकर कोविड-19 के बाद मांग बढ़ने का रूझान देखा गया है। इस दौरान लोगों की प्लॉट को लेकर पूछताछ बड़ी है और बिक्री को देखते हुए, और भी ऐसे ही मजबूत रहने की उम्मीद है। नए लॉन्च किए गए प्लॉटस की लोकप्रियता के कारण हैं, स्वतंत्रता और ज्यादा लाभ, क्योंकि भूमि का मूल्य हमेशा बढ़ता ही है।यह सुषमा ग्रुप का प्लॉटस वाला पहला कदम है और कंपनी की जॉयनेस्ट सीरीज़ का तीसरा प्रोजेक्ट, जॉयनेस्ट सीरिज़ के पहले दोनों प्रोजेक्टस की डिलीवरी मोहाली के ज़ीरकपुर क्षेत्र में की गई है।
यह प्रोजेक्ट हाईवे और सिटी बस स्टैंड से लगभग 2 मिनट की दूरी पर स्थित है। जिसमें गेटेड कम्यूनिटी में आपके परिवार के लिए चौबीसों घंटे सुरक्षा, आधुनिक टाऊन प्लांनिग, नियोजित सीवेज, पर्याप्त हरियाली और पार्क, वाटर स्टोरज़ टैंक, सुरक्षित और खतरे से मुक्त घर के लिए भूमिगत केबल और 35 फीट चौड़ी आंतरिक संड़के होंगी।प्रोजेक्ट का मुख्य प्रवेश द्वार 60 फीट चौड़ी सड़क से है, जिसमें पार्किग स्थान पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराया गया हैं। लोगांे की डिमांड को देखते हुए प्रकृति की सुंदरता को विकसित किया गया है क्योंकि अभी हाल ही में लोगो ने इसके दुष्परिणाम झेले हैं।
‘‘प्रतीक मित्तल, एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, सुषमा ग्रुप और आई आई टी एल्युमेनस कहते हैं, ‘‘ये कॉलोनियां, जब किसी प्रतिष्ठित डेवलपर्स द्वारा बनाई जाती हैं, तो उनमें सर्वाेत्तम सुविधाएं प्रदान करती है, जिससे एक बेहतर निवास बन सके। उन जगहों पर ज्यादा संभावना बनाने के लिए बुनियादी ढांचे का और विकास किया जा रहा है, जिससे खरीदारों के भविष्य लिए एक अतिरिक्त लाभ भी रहें।